Press "Enter" to skip to content

जल निगम की 50 लाख से ऊपर की परियोजना का स्थलीय निरीक्षण

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मुज़फ्फरनगर- सचिव, व्यवसायिक शिक्षा एवं प्राविधिक शिक्षा, सूक्ष्म लघु मध्यम उघम/नोडल अधिकारी मुजफ्फरनगर भुवनेश कुमार, ने सोमवार को शासन के निर्देश पर तहसील खतौली, ब्लाॅक खतौली व 50 लाख से अधिक की परियोजना का भौतिक निरीक्षण किया।

भुवनेश कुमार से सर्वप्रथम तहसील खतौली का निरीक्षण करते हुए अभिलेखागार, भूलेख कक्ष का निरीक्षण करते हुए प्रार्थना पत्रों के निस्तारण की स्थिति की समीक्षा की। उन्होने राजस्व अभिलेखागार मे बस्ते खुलवाकर बस्ता सूची का निरीक्षण करते हुए निर्देश दिये कि सूची को अघतन किया जाये। जो अभिलेख बस्ते में नही है उन्हे सूची से हटाया जाये। तत्पश्चात तहसीलदार खतौली के कोर्ट रूम का निरीक्षण करते हुए अलमारियों में रखी फाईलों को चैक किया। उन्होने सबसे पुराने वादों की फाईलों का निरीक्षण किया। निरीक्षण में वादों के निस्तारण में अपेक्षित कार्यवाही न होने पर उन्होने नाराजगी व्यक्त की। उन्होने कहा कि फाईलों का निस्तारण सही ढंग से नही हो पा रहा है। तारीख पर तारीख लग रही है लेकिन वाद निस्तारित नही हो रहे है। उन्होने 2017 की एक वाद की फाईल में 120 तारीख व 2011 की फाईल पर 352 तारीख लगी होने के बावजूद निस्तारण न होने पर कडी नाराजगी व्यक्त की। उन्होने कहा कि अदम पैरवी मे खारिज मुकदमें का नया नम्बर नही होना चाहिएं। पुराने नम्बर पर ही मुकदमा चलाया जाये। इसके पश्चात रजिस्ट्रार कानूनगो के कार्यालय का निरीक्षण करते हुए आर 6 अभिलेखो को चैक किया फिर कार्यालय में रखी अलमारी में बन्द एक बस्ते को खुलवाकर देखा जिसमें जिसमें दाखिल दफ्तर होने आई फाईलों को समय से निस्तारण नही किया गया था। फाईले काफी पुरानी होने के बावजूद दाखिल दफ्तर नही की गई थी जिस पर उन्होने कडी नाराजगी व्यक्त करते हुए रजिस्ट्रार कानूनगो के विरूद्व चार्जशीट बनाने व तहसीलदार से स्पष्टीकरण लेने के निर्देश दिये।

इसके पश्चात तहसील कार्यालय में स्थित पूर्ति कार्यालय का निरीक्षण करते हुए वहां उपस्थित अनिल से पूति कार्यालय आने का कारण पूछा तो उसने बताया कि उसके राशन कार्ड में माता के नाम को हटाकर पत्नी का नाम डलवाना है। 2 माह से नाम परिवर्तन नही हुआ है। भुवनेश कुमार ने तभी पूर्ति निरीक्षक से शिकायतकर्ता का आवदेन उपलब्ध कराने के निर्देश दिये और विलम्ब का कारण पूछा जिस पर पूर्ति निरीक्षक कोई संतोषजनक उत्तर नही दे पाये। उन्होने निर्देश दिये कि आज ही इसका कार्य पूर्ण कर अवगत कराया जाये। उन्होने कहा कि पूर्ति विभाग की व्यवस्था को सुधारा जाये। उन्होने कहा कि पूर्ति कार्यालय में आवेदन करने वाले/शिकायत करने वाले को नम्बर डालकर रसीद दी जायेगी और कम्पलेंट रजिस्टर में दर्ज की जायेगी। इस अवसर पर सभासदों द्वारा भी मा0 सचिव को दी गई। जिस पर उन्होने एक सप्ताह में जांच कर कार्यवाही से अवगत कराने के निर्देश अपर जिलाधिकारी प्रशासन को दिये। उन्होने सम्पूर्ण समाधान दिवस व आईजी आर एस पोर्टल पर प्राप्त शिकायतों के निस्तारण को भी परखा। उन्होने अपने फोन से शिकायतकर्ताओं को फोन कर निस्तारण की जानकारी प्राप्त की। उन्होने निर्देश दिये कि शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण होना चाहिए। इसके पश्चात मा0 सचिव ने तहसील परिसर पर पौधारोपण भी किया।

भुवनेश कुमार ने तहसील के निरीक्षण के उपरान्त विकास खण्ड कार्यालय खतौली का निरीक्षण किया और ऑनलाइन तथा ऑफलाइन शिकायतों के निस्तारण की स्थिति की जानकारी प्राप्त की। उन्होने स्थापना सहायक से कर्मचारियेां अधिकारियों की सर्विस बुक, जीपीएफ पास बुक आदि का निरीक्षण किया। उन्होने कहा कि शिकायतें पेंडिंग न रखी जाये उनका सत्यापन कराया कर जिला स्तर पर फाॅरवर्ड की जाये। उन्हेाने मनरेगा फीडिंग मस्टररोड के कार्य भी देखे। उन्होने निराश्रित, वृद्धावस्था एवं दिव्यांग पेशन की भी समीक्षा की। उन्होने कहा कि सभी पात्रों को पेंशन दिलाना सुनिश्चित किया जाये। उन्होने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाये कि केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार की सभी जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ समाज के आखिरी पायदान पर बैठे व्यक्ति को मिले।

श्री भुवनेश कुमार ने सोमवार को 50 लाख से अधिक की परियोजना में अमृत कार्यक्रम के अन्तर्गत सीवरेज योजना अम्बा विहार में चल रहे कार्यो का स्थलीय निरीक्षण किया। अधिशासी अभियंता जल निगम से अवगत कराया कि अमृत कार्यक्रम के अन्तर्गत मुजफ्फरनगर शहर की सीवरेज योजना सब जोन-4 पार्ट 1 अनुमानित लागत 5223.06 लाख की योजना की संस्तुति 2017 में हुई थी। मूल्याकंन प्रभाग द्वारा मूल्यांकित लागत 5016.28 लाख की स्वीकृति वर्ष 2019 में दी गई थी। योजना मे मुख्यतः 29.87 किमी सीवर लाईन, 4821 नगर सीवर गृह पेयजल कनेक्शन, 1 नग आईपीएस एवं 1 नग एमपीएस के कार्य किये जाने है। वर्तमान में 6 किमी लाईन बिछाई जा चुकी है। कार्यपूर्ण होने की तिथि 2020 है। मा0 सचिव ने निर्देश दिये कि कार्य युद्व स्तर पर चलाया जाये और शीघ्र पूर्ण किया जाये।

इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी अमित सिंह, एसडीएम खतौली इन्द्रकान्त द्विवेदी, डीडीओ, तहसीलदार खतौली, बीडीओ सहित अन्य सभी सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.
More from शहरनामाMore posts in शहरनामा »

Be First to Comment

    प्रातिक्रिया दे

    आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

    Mission News Theme by Compete Themes.