Press "Enter" to skip to content

लॉकडाउन भले चला गया हो, वायरस नहीं गया-पीएम, कोरोना पर मोदी ने सातवीं बार राष्ट्र को किया संबोधित

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज राष्ट्र को संबोधित किया। उन्होंने अपने चिर परिचित अंदाज में संबोधन की शुरुआत की लेकिन इस बार वो कुछ नाराज दिखे। पीएम मोदी की अपील में आज देशवासियों से कुछ नाराज़गी भी छिपी थी। पीएम मोदी ने कहा कि तमाम वीडियो ऐसे सामने आ रहे हैं जिसमें कि लोग कोरोना से बचाव करते नहीं दिख रहे। पीएम मोदी ने अन्य देशों का उदाहरण देकर देशवासियों को स्थिति से अवगत कराया। लेकिन संबोधन की कुछ ही देर बाद पीएम मोदी ने लोगों ने हाथ जोड़कर निवदेन किया। पीएम मोदी ने अपने संबोधन के बीच देश की जनता से हाथ जोड़कर अपील की। पीएम मोदी ने कहा कि याद रखिए जब तक दवाई नहीं ढिलाई नहीं। त्योहारों का समय हमारे लिए खुशियों का समय है, उल्लास का समय है। एक कठिन समय से निकलकर हम आगे बढ़ रहे हैं। थोड़ी सी लापरवाही हमारी गति को रोक सकती है, हमारी खुशियों को धूमिल कर सकती है। जीवन को जिम्मेदारी को निभाना और सतर्कता बरतना ये दोनों चीजें जब तक साथ-साथ चलेंगी तब तक खुशियां बरकरार रहेंगी।

पीएम मोदी की भावुक अपील-पीएम मोदी ने कहा कि दो गज की दूरी, समय-समय पर साबुन से हाथ धुलना और मास्क का ध्यान रखिए और मैं आप सब से कर्बद्ध प्रार्थना करता हूं आपको मैं सुरक्षित देखना चाहता हूं, आपके परिवार को सुखी देखना चाहता हूं। उन्होंने आगे कहा कि ये त्योहार आपके जीवन में उत्साह और उमंग भरे ऐसा वातावरण चाहता हूं और इसलिए मैं हर देशवासी से आग्रह करता हूं। पीएम मोदी जब ये बात बोल रहे थे तो उन्होंने हाथ जोड़ लिए थे। राष्ट्र के नाम संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि समय के साथ आर्थिक गतिविधियां भी तेजी से बढ़ रही हैं। हम में से अधिकांश लोग अपनी जिम्मेदारियों को निभाने के लिए, फिर से जीवन को गति देने के लिए, रोज घरों से बाहर निकल रहे हैं। त्योहारों के इस मौसम में बाजारों में भी रौनक धीरे-धीरे लौट रही है। लेकिन हमें ये भूलना नहीं है कि लॉकडाउन भले चला गया हो, वायरस नहीं गया है।

कोरोना वैक्सीन की क्या है तैयारी-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 13 मिनट के अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने देशवासियों से एक तरफ कोरोना को लेकर लापरवाही न बरतने की अपील की तो दूसरी तरफ वैक्सीन के बारे में जानकारी भी दी। पीएम मोदी ने कहा कि त्योहारों में बाजारों में रौनक देखी जा रही है, लेकिन याद रखिए लॉकडाउन खत्म जरूर हुआ है लेकिन अभी वायरस गया नहीं है। पीएम ने कहा कि बरसों बाद हम ऐसा होता देख रहे हैं कि मानवता को बचाने के लिए युद्धस्तर पर काम हो रहा है। अनेक देश इसके लिए काम कर रहे हैं। हमारे देश के वैज्ञानिक भी vaccine के लिए जी-जान से जुटे हैं। भारत में अभी कोरोना की कई वैक्सीन्स पर काम चल रहा है।

दो गज की दूरीहाथ धुलना जरुरी-एक कठिन समय से निकलकर हम आगे बढ़ रहे हैं, थोड़ी सी लापरवाही हमारी गति को रोक सकती है, हमारी खुशियों को धूमिल कर सकती है। जीवन की ज़िम्मेदारियों को निभाना और सतर्कता ये दोनो साथ साथ चलेंगे तभी जीवन में ख़ुशियां बनी रहेंगी। दो गज की दूरी, समय-समय पर साबुन से हाथ धुलना और मास्क का ध्यान रखिए। जब तक कोरोना के खिलाफ लड़ाई में देश को सफलता नहीं मिल जाती तब तक लापरवाही नहीं बरती जानी चाहिए। भारत आज संभली हुई स्थिति में है और किसी भी सूरत में इसे बिगड़ने नहीं देना है। हमें ये भूलना नहीं है कि लॉकडाउन भले चला गया हो, वायरस नहीं गया है।

More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.