Press "Enter" to skip to content

कोरोना गाइंडलाइस न मानने वालों को विमान से उतारा जाएगा: डीजीसीए

नई दिल्ली। कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए विमान यात्रियों को चेतावनी दी गई है, जिसमें उन्हें कोरोना दिशानिर्देशों का पालन न करना महंगा पड़ सकता है। मसलन यदि कोई यात्री फ्लाइट में बैठकर मास्क नहीं लगाता है या निकाल देता है तो उसके विमान से उतारा जा सकता है। नागर विमान महानिदेशालय की ओर से दी गई इस चेतावनी में कहा गया है कि फ्लाइट में कोरोना गाइडलाइंस के उल्लंघन की खबरों के बीच उड्डयन महानिदेशालय ने कहा कि एयरक्राफ्ट के भीतर यदि यात्री मास्क नहीं लगाते हैं या फिर कोरोना गाइडलाइंस का उल्लघंन करते हैं तो उन्हें उतारा जा सकता है। यही नहीं यदि कई बार चेतावनी जारी किए जाने के बाद भी यात्री का बर्ताव नहीं सुधरा तो फिर उसके साथ एक ‘उपद्रवी यात्री’ के तौर पर बर्ताव किया जाएगा। यही नहीं महानिदेशालय की ओर से एयरपोर्ट्स की सुरक्षा में तैनात सीआईएसएफ और पुलिस अधिकारियों को भी आदेश दिया है कि वे बिना फेस मास्क लगाए किसी यात्री को एंट्री न करने दें।

यही नहीं एयरपोर्ट अथॉरिटीज को आदेश दिया गया है कि परिसर में कोरोना गाइडलाइंस का पालन सुनिश्चित करें और कोई भी यात्री बिना मास्क के नजर न आए। डीजीसीए की ओर से जारी चेतावनी में कहा गया है, ‘यदि कोई यात्रा कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन नहीं करता है तो फिर चेतावनी जारी की जाए। उसके बाद भी बर्ताव नहीं सुधरता है तो उसे सुरक्षाबलों के हवाले किया जाए। यदि जरूरत पड़ती है तो ऐसे यात्री के खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी की जा सकती है।’ डीजीसीए ने कहा कि इन चेतावनियों का तत्काल पालन होना चाहिए और यदि कोई इसका पालन नहीं करता है तो उसके खिलाफ कड़ा एक्शन लिया जाए। उड्डयन महानिदेशालय की ओर से यह चेतावनी ऐसे समय में दी गई है, जब देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में एक बार फिर से तेजी देखने को मिली है। शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के 24,882 केस मिले हैं। इसके साथ ही देश भर में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या 2 लाख के पार पहुंच गई है। अब तक देश में कोरोना के 11,333,728 मामले सामने आ चुके हैं। इस साल यह चौथा मौका है, जब कोरोना वायरस के संक्रमण के नए केसों की संख्या एक दिन में 20,000 से ज्यादा दर्ज की गई है। खासतौर पर महाराष्ट्र, पंजाब, केरल, गुजरात, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों के चलते चिंताएं बढ़ी हैं।

More from खबरMore posts in खबर »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.