Press "Enter" to skip to content

पुलवामा हमले की बरसी पर शहीदों को श्रद्धांजलि,देश कभी नहीं भूलेगा जवानों का बलिदान: अमित शाह

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पुलवामा हमले की दूसरी बरसी पर शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि कोई भारतीय इस दिन को भूल नहीं सकता। दो साल पहले पुलवामा में हमला हुआ था। हम सभी शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। हमें अपने सुरक्षा बलों पर गर्व है और उनकी बहादुरी आने वाली पीढ़ियों को प्रेरणा देती रहेगी। उन्होंने कहा कि देश के सशस्त्र बलों ने बार-बार साबित किया है कि वे ‘हमारी मातृभूमि’ की रक्षा करने में पूरी तरह से सक्षम हैं।दूसरी ओर गृह मंत्री अमित शाह ने भी पुलवामा में जान गंवाने वाले सीआरपीएफ जवानों को याद किया और उन्हें श्रद्धांजलि दी। गृह मंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा कि भारत उनके असाधारण साहस और सर्वोच्च बलिदान को कभी नहीं भूलेगा। गृह मंत्री अमित शाह ने 2019 में पुलवामा हमले में जान गंवाने वाले सीआरपीएफ के जवानों को श्रद्धांजलि दी है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 2019 पुलवामा आतंकी हमले में जान गंवाने वाले सीआरपीएफ के जवानों को श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने कहा कि भारत राष्ट्र के प्रति उनकी सेवा और उनके सर्वोच्च बलिदान को कभी नहीं भूलेगा। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी ट्वीट कर सीआरपीएफ के जवानों को याद किया और लिखा कि भारत राष्ट्र के लिए उनकी सेवा और सर्वोच्च बलिदान को नहीं भूला जा सकता है। गौरतलब है कि आज का दिन इतिहास में जम्मू कश्मीर की एक दुखद घटना के साथ दर्ज है। दो बरस बीतें, लेकिन उस घटना के जख्म आज तक हरे हैं, जब आतंकवादियों ने इस दिन को देश के सुरक्षाकर्मियों पर कायराना हमले के लिए चुना। राज्य के पुलवामा जिले में जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों की बस को टक्कर मार दी, जिसमें कम से कम 39 जवान शहीद हो गये और कई गंभीर रूप से घायल हुए। यह दिन इतिहास में एक और वजह से भी दर्ज है।

वीर सैनिकों को नमन: राहुल-कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पुलवामा के शहीदों को नमन किया है। उन्होंने कहा कि पुलवामा हमले में शहीद हुए वीर सैनिकों को श्रद्धांजलि और उनके परिवारों को नमन। देश आपका ऋणी है।

बेटे की शहादत पर गर्व है-पंजाब के रूपानगर के रहने वाले सीआरपीएफ कांस्टेबल कुलविंदर सिंह के माता-पिता ने कहा, ‘उसने देश के लिए अपने जीवन का बलिदान कर दिया। हमें अपने बेटे पर बहुत गर्व है।’ सिंह 2019 में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले में शहीद हो गए थे।

सेना ने जारी किया वीडियो-भारतीय सेना ने पुलवामा हमले की दूसरी बरसी पर एक ऐसा वीडियो जारी किया है जो किसी भी झकझोर कर रख देगा। चिनार कॉर्प्स के ट्विटर से जारी किया गया यह वीडियो आपको पूरी घटना और उसके बाद भारत सरकार के उठाए कदमों के बारे में बताता है। वीडियो की शुरुआत में बताया गया है कि कैसे सीआरपीएफ बटालियन की बसों को निशाना बनाने वाले आंतकी आदिल अहमद डार की उम्र केवल 20 साल थी।

14 फरवरी 2019 को हुआ था आत्मघाती हमला-वीडियो में बताया गया है कि आतंकी ने अपने घर से 10 किलोमीटर की दूरी पर बने हाइवे पर सीआरपीएफ की बसों को विस्फोटकों से भरी कार के जरिए निशाना बनाया। इस घटना में 40 जवान शहीद हो गए थे और 70 जवान घायल हो गए थे। घटना के बाद भारत ने पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस ले लिया था, उसके साथ व्यापार बंद कर दिया और कूटनीतिक मोर्चे पर उसकी घेरेबंदी की जाने लगी।

More from खबरMore posts in खबर »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.