Press "Enter" to skip to content

मोदी सरकार में बेरोजगारी-महंगाई और गरीबी बढ़ी: राहुल

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शनिवार को केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने देश में बढ़ती बेरोजगारी, मुद्रास्फीति और गरीबी दर को लेकर मोदी सरकार की खूब आलोचना की। उन्होंने कहा, ‘इस सरकार ने क्या बढ़ाया है। बेरोजगारी, महंगाई, गरीबी और सिर्फ मित्रों की कमाई। यहीं नहीं, कांग्रेस नेता ने आंकड़ों के माध्यम से केंद्र सरकार पर निशाना साधने की कोशिश की।  उन्होंने कहा कि कोरोना से पहले 9.9 करोड़ लोग मध्य आय वर्ग का हिस्सा थे, जिनकी आय संख्या 6.6 करोड़ रह गई। उन्होंने आगे कहा कि 2011 से 2019 के बीच 5.7 करोड़ लोग निम्न आय वर्ग से निकलकर मध्य आय वर्ग का हिस्सा बने थे। इसके अलावा राहुल गांधी ने आगे कहा कि रोज दो डॉलर (करीब डेढ़ सौ रुपये) या कमाने वालों का आंकड़ा7.5 करोड़ जा पहुंचा है।  बता दें कि राहुल गांधी केंद्र सरकार की आलोचना करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ते हैं। इससे पहले उन्होंने ईपीएफ खाते बंद करने और लाखों वेतनभोगी कर्मचारियों की नौकरी चले जाने को लेकर ट्वीट किया था। उन्होंने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था, ‘आपकी नौकरी गई और ईपीएफ अकाउंट बंद करना। केंद्र सरकार के रोजगार मिटाओ अभियान की एक और उपलब्धि! कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने आपसे कहा था कि गैस सिलेंडर का दाम कम करेंगे। यूपीए के समय 400 रुपये का सिलेंडर मिलता था और एनडीए में यह 900 रुपये का मिलता है। नरेंद्र मोदी कहते हैं कि हर घर में गैस पहुंचा दिया। फायदा किसको हुआ? गरीब परिवारों को नहीं, 2-3 बड़े उद्योगपतियों को।

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.