Press "Enter" to skip to content

संसद में सुनाई दी हैदराबाद में गैंगरेप की गूंज,’घुसपैठिया’ बयान पर भी मचा घमासान

नई दिल्ली संसद के शीतकालीन सत्र में सोमवार को संसद के दोनों सदनों में हैदराबाद में महिला पशु चिकित्सक के साथ सामूहिक दुष्कर्म की गूंज आज संसद में भी सुनाई पड़ी। इस घटना को लेकर पूरे देश में उबाल है। इसलिए लोकसभा और राज्यसभा दोनों सदनों में इस मुद्दे पर चर्चा हुई, जिसमें कानून को कठोर बनाने की मांग की गई, जिसके लिए केंद्र सरकार भी काननों में संशोधन करने के लिए तैयार नजर आई।

राज्यसभा:किसी उम्र का हो बलात्कारी को मिले कड़ी सजा: नायडू

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने सोमवार को कहा कि अगर जघन्य अपराध जारी रहते हैं तो सजा देने के लिए दुष्कर्मी की आयु के मुद्दे पर पुनर्विचार किया जाना चाहिए। उल्लेखनीय है कि इस समय पूरे देश में वर्ष 2012 में हुए निर्भया केस की तरह हैदराबाद में एक डॉक्टर के साथ हुए गैंगरेप और हत्या को लेकर हल्ला मचा हुआ है। राज्यसभा के सभापति नायडू ने भी इस घटना पर गहरी चिंता व्यक्त की। नायडू ने राज्यसभा की कार्यवाही के दौरान शून्यकाल में कई सदस्यों की ओर से इस मुद्दे को उठाए जाने के बाद कहा कि महिलाओं की सुरक्षा संबंधी मुद्दे और पहलू सभी सदस्यों के सामने हैं जिनके जवाब और समाधान राजनीति से ऊपर उठकर और मिलकर देना है। ऐसी घटनाएं किसी एक राज्य से जुड़ी नहीं हैं बल्कि यह पूरे समाज का रोग है। व्यवस्था में खामियां हैं और पुलिस इंतजामों में कमी है। फास्ट ट्रैक कोर्ट गठित होने चाहिए। ऐसे मुद्दों पर फिर गंभीरता से विचार करके समाधान निकालने होंगे।

बलात्कारियों को जनता के बीच मिले मौत की सजा: जया बच्चन

राज्यसभा में शून्यकाल के दौरान हैदराबाद में 26 वर्षीय वेटरनिटी डॉक्टर के साथ दरिंदगी कर रेप और बलात्कार की जो घटना सामने आई है उस पर जहां एक तरफ देशव्यापी गुस्सा है तो वहीं दूसरी तरफ राज्यसभा में भी इसकी गूंज सुनाई पड़ी। राज्यसभा सांसद जया बच्चन ने सोमवार को कहा कि ऐसे बलात्कारियों को जनता के बीच लाकर मार देना चाहिए। समाजवादी पार्टी की सांसद ने कहा- “ऐसे लोगों को जनता के बीच लाकर उसे पीट-पीटकर मार देना चाहिए। 26वर्षीय महिला डॉक्टर का जल हुआ शव गुरुवार की सुबह हैदराबाद के पास मिला था। इसके साथ ही, जया बच्चन ने इस बात को लेकर भी सरकार पर सवाल उठाया है कि वे महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध को लेकर नियंत्रित करने के लिए क्या कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह समय है जब सरकार को यह बताना चाहिए कि कैसे वे रेप केस को सुलझाते हैं। ऐसी ही घटना वेटरनिटी डॉक्टर के रेप से पहले हैदराबाद में एक दिन पहले हुई थी।

जब संसद में भावुक हुईं ये सांसद

हैदराबाद में महिला डॉक्टर से हुई हैवानियत ने पूरे देश को झकझोर दिया है। राजयसभा में अन्नाद्रमुक की सांसद विजिला सत्यानंद चर्चा के दौरान भावुक हो गईं। उन्होंने कहा कि बेटियों के लिए भारत सुरक्षित नहीं रहा। उन्होंने अपराधियों के खिलाफ कठोर सजा की मांग करते हुए कहा कि महात्मा गांधी ने कहा था कि जब आधी रात को महिलाएं बिना किसी डर के आ जा सकेंगी, तब ही वास्तविक स्वतंत्रता होगी। विजिला ने नशीली दवाओं को इस तरह की घटनाओं का एक कारण बताते हुए इन पर रोक लगाने, बलात्कार के मामलों की शीघ्र सुनवाई करने, दोषी को मृत्युदंड देने और सजा पर तामील की भी मांग की।

कठोरतम कानून बनाने को तैयार

लोकसभा में इस मुद्दे पर केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने लोकसभा में कहा कि इस घटना से पूरा देश शर्मसार हुआ है। इससे हर किसी को दुख पहुंचा है। आरोपियों को सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए। महिलाओं के खिलाफ इस तरह के अपराधों से निपटने के लिए हम कठोरतम कानून बनाने को तैयार हैं बशर्ते पूरा सदन इस पर सहमत हो। जबकि गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने भी लोकसभा में कहा कि हैदराबाद का मामला बहुत गंभीर है। सरकार कानून में संशोधन करने को तैयार है।

सामाजिक सुधार के लिए सब आएं साथ

कांग्रेस सासंद अमी याज्निक ने राज्यसभा में हैदराबाद की घटना को लेकर कहा, ‘मैं सभी प्रणालियों, न्यायपालिका, विधायी, कार्यकारी और अन्य प्रणालियों से अनुरोध करती हूं कि वे एक साथ आएं ताकि सामाजिक सुधार हो सके। इसे आपातकालीन आधार पर किया जाना चाहिए।’

लोकसभा: घटना से पूरी संसद चिंतित: बिरला

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने इस मुद्दे पर लोकसभा में भी चर्चा हुई। लोकसभा में हैदराबाद की पशु चिकित्सक के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के मामले को उठाया गया। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने कहा कि देश में जो घटनाएं घट रही हैं उसपर संसद भी चिंतित है। मैंने प्रश्नकाल के बाद इस पर चर्चा की अनुमति दी है। उधर लोकसभा में हैदराबाद में एक युवती के साथ बलात्कार और उसकी निर्मम हत्या की घटना की निंदा करते हुए सोमवार को केंद्र सरकार ने कहा कि वह आईपीसी और सीआरपीसी में संशोधन करने को तैयार है और इस बारे में विचार विमर्श जारी है। गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा कि  आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कतई बर्दाश्त नहीं करने के संकल्प की तरह ही सरकार महिलाओं के खिलाफ अपराध को कतई बर्दाश्त नहीं करने की प्रतिबद्धता रखती है।

आरोपियों को मिले फांसी

तेलंगाना से कांग्रेस सांसद यूकेएन रेड्डी ने लोकसभा में कहा कि एक महिला डॉक्टर का अपहरण करके उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया। उसके बाद उसकी हत्या करके उच्च सुरक्षा क्षेत्र में जला दिया गया। घटना के कारणों में से एक शराब की अंधाधुंध बिक्री है। हम मांग करते हैं कि एक फास्ट ट्रैक कोर्ट बने और आरोपियों को फांसी की सजा दी जाए।

संजीव बलियान करेंगे मोदी से मुलाकात

खबर है कि राज्यमंत्री संजीव बलियान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे। वह हैदराबाद सामूहिक दुष्कर्म और हत्याकांड के मुद्दे को प्रधानमंत्री के सामने उठाएंगे। इस मामले पर अभी तक प्रधानमंत्री ने कोई टिप्पणी नहीं की है।

पुलिस करेगी याचिका

पशु चिकित्सक के साथ हुई दरिंदगी की जांच कर रही पुलिस आज अदालत में चारों आरोपियों से आगे की पूछताछ के लिए याचिका दायर कर हिरासत मांग सकती है। चारों आरोपियों मोहम्मद आरिफ, नवीन, चिंताकुंता केशावुलु और शिवा को शुक्रवार को उनके घर से गिरफ्तार किया गया था। फिलहाल आरोपी 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में हैं।

बनाया जाएगा फास्ट ट्रैक

तेलंगाना के मुऱख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने पुलिस को सामूहिक दुष्कर्म की जांच जल्दी पूरी करने के आदेश दिए हैं। उन्होंने घटना के आरोपियों को सख्त सजा दिलाने और पीड़ित परिवार को न्याया दिलाने के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने के आदेश दिए हैं।

घुसपैठिए पर भिड़े जोशी और अधीर

केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने लोकसभा में कहा कि वह उनके (अधीर रंजन चौधरी) बयान की निंदा करते हैं। जबकि कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष खुद घुसपैठिया हैं। यदि कांग्रेस में थोड़ा भी विवेक है तो उसे माफी मांगनी चाहिए। वरना हमारी मैं मांग करता हूं कि उनकी तरफ से सोनिया और राहुल माफी मांगे। वहीं अधीर रंजन चौधरी ने जोशी की टिप्पणी पर कहा, ‘ये हमारी नेता सोनिया गांधी जी को घुसपैठिया कह रहे हैं। क्या कर रहे हो आप (भाजपा) लोग? यदि मेरे नेता घुसपैठिया हैं तो आप भी हैं।

आपको निर्बला सीतारमण कहना ठीक होगा: अधीर

लोकसभा में अधीर रंजन चौधरी ने कहा- आपके लिए सम्मान तो है लेकिन कभी कभी सोचता हूं कि आपको निर्मला सीतारमण की जगह निर्बला सीतारमण कहना ठीक होगा कि नहीं। आप मंत्री पद पर तो हैं, लेकिन जो आपके मन में है वो कह भी पाती हैं या नहीं। दरअसल वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पीएमसी घोटाले पर कहा कि इस बैंक के लगभग 78 प्रतिशत जमाकर्ताओं को अब अपने खाते में जमा पूरी राशि को निकालने की अनुमति दे दी गई है। जहां तक प्रमोटरों की बात है हमने यह सुनिश्चित किया है कि प्रमोटरों की संलग्न संपत्तियां कुछ शर्तों के तहत आरबीआई को दी जा सकती हैं। इसलिए उन संपत्तियों को नीलाम करके जमाकर्ताओं को पैसा दिया जा सकता है।फोटो साभार- navbharttimes.indiatimes.com

More from अपराधMore posts in अपराध »
More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.