Press "Enter" to skip to content

पहाड़ो से लेकर रेगिस्तान तक जल प्रहार, 250 से ज्यादा लोगों की मौत

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

प्रचंड बारिश और उसके कारण आने वाली बाढ़ ने हाल ही में कहर ढा दिया है. न्यूज 18 इंडिया की एक खास रिपोर्ट के मुताबिक महाराष्ट्र से लेकर आसाम तक और ओडिशा से लेकर कर्नाटक तक बारिश ने आधे हिन्दुस्तान में हाहाकार मचा दिया है. बाढ़ से अब तक 250 से ज्यादा लोगों की जान चली गई है।

महाराष्ट्र
यहाँ राज्य के कई इलाकों में सैलाब का कब्जा था. मुंबई में मलाड सब वे को भी बंद कर दिया गया था। भारी बारिश ने कल्याण स्टेशन को पूरी तरह डुबो दिया था। कई फीट पानी के बीच पटरियों पर सरपट दौड़ने वाली ट्रेन भी रेंगने को मजबूर हो गई। उधर कांदिवली के ही एस बी रोड पर भी बारिश ने जनजीवन हाल बेहाल कर दिया। सड़क पूरी तरह पानी में डूब गई। वाहनों की लम्बी कतार ने मुसीबत को और बड़ा कर दिया। जो जहां था वहीं फंस गया। कारों से लेकर इंसान तक हर कोई सड़क पर उतरे इस सैलाब में फंस गया।

गुजरात
लगातार बारिश से सैलाब सड़कों पर उमड़ आया। राजकोट की गोंडल रोड पर तो पानी इतना भर गया। कि बस के पहिए सड़क पर उमड़े सैलाब में फंस गए। कई लोगों ने बस को धक्का दिया । तब जाकर कहीं बस को निकाला जा सका। कोई अपने घरों में तो कोई सैलाब के बीचमें। इस बीच स्थानीय लोगों और NDRF की टीमों ने गजब का हौसला दिखाया।

मध्य प्रदेश
हिल स्टेशन पचमढ़ी में बेहिसाब बारिश ने काजरी नदी में उफान ला दिया। जिस वजह से नागद्वारी के दर्शन के लिए गए सैकड़ों श्रद्धालुओं को चालीस किलोमीटर की पैदल यात्रा का सफर भारी पड़ गया। गाड़ियां तो सैलाब को चीरकर आगे बढ़ गईं। लेकिन श्रद्धालु मझधार में फंस गए। जैसे तैसे उफनाई काजरी नदी को पार कराया गया।

राजस्थान
अलवर में लगातार हो रही बारिश के बाद डैम ओवर फ्लो होने के बाद पानी निचले इलाकों में भर गया. यहा एक बाइक सवार की बाइक तेज लहरों के आगे फिसल गई जिसे निकालने के लिए चार लोगों को अपनी जान पर खेलना पड़ा। राहत की बात यही रही कि इनके साथ इस दौरान कोई हादसा नहीं हुआ।

हिमाचल प्रदेश
सोलन के जाबली में लैंड स्लाइड मुसीबत लेकर आया। एक बार पहाड़ दरकना शुरु हुआ तो कई सेकेंड तक यही सिलसिला चलता रहा। पहले पत्थर गिरे। फिर पेड़ गिरे। उणा में बारिश की लहरें मानो सबकुछ तबाह करने को आयी हैं। सुनसान इलाकों से होता हुआ ये पानी बस्ती और दफ्तरों तक भी पहुंच गया। सब कुछ पल भर में डूब गया।

ओडिशा
ओडिशा के मल का नगिरि में भारी बारिश ने सैलाब के हालात पैदा कर दिए। पुल के नीचे बहने वाला पानी पुल के ऊपर बहने लगा।प्रशासन ने लाल रिबन लगा कर लोगों को खतरे के प्रति आगाह भी किया है। मौसम के हालातों के मद्दे नजर दो दिन स्कूलों की छुट्टी का एलान भी कर दिया गया था।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.
More from खबरMore posts in खबर »
More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

    प्रातिक्रिया दे

    आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

    Mission News Theme by Compete Themes.